Subscribe Us

header ads

IIT भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान

IIT भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान

  • IIT  का मतलब क्या है ? 
  • IIT का इतिहास
  • IIT संस्थान की सुची 
  • IIT का महत्त्व
  • IIT संयुक्त प्रवेश परिक्षा (IIT JEE)

यह संस्थान सुरुवात मे हिजली कारावास मे स्थित था। १५सितंबर १९५६ मे भारत की संसद ने "भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान अधिनियम " मंजूर कर इसे "राष्ट्रीय महत्व के संस्थान " घोषित किया।

IIT


IIT  का मतलब क्या है ? 

  IIT का मतलब होता है ('Indian Institute of Technology'. ) भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान . 


IIT का इतिहास

  जोगेंद्र सिंह ने सन १९४६ मे भारत मे उच्च शिक्षा के संस्थानो की स्थापना के लिए एक समिती गठित की गई। नलिनी रंजन सरकार की अध्यक्षता मे गठित समिती ने शिफारिश की भारत भर मे ऐसे संस्थानो की स्थापना की जाए। इन शिफारिशो के अनुसार पहले भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान की स्थापना कलकत्ता के खड़गपुर मे १९५० मे की गई। यह संस्थान सुरुवात मे हिजली कारावास मे स्थित था। १५सितंबर १९५६ मे भारत की संसद ने "भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान अधिनियम " मंजूर कर इसे "राष्ट्रीय महत्व के संस्थान " घोषित किया।
  इसी अधिनियम के आधार पर विभिन्न शहरो मे विभिन्न 
भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान स्थापित किये गये।


COVID- 19 की जानकारी देने के लिए सार्क (SAARC) ने शुरू की है वेबसाइट


IIT संस्थान की सुची 

भारत मे भारत सरकार द्वारा स्थापित कुल २३ प्रोद्योगिकी संस्थान है ।

१) भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान खडगपुर ( IITKGP)
स्थापना वर्ष -१९५१

२ ) भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान मुंबई (IITB)
स्थापना वर्ष - १९५८

३) भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान कानपुर (IITK)
स्थापना वर्ष - १९५९

४) भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान मद्रास (IITM)
स्थापना वर्ष - १९५९

५) भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान दिल्ली (IITD)
स्थापना वर्ष - १९६१ संस्थान का दर्जा - १९६३

६) भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान गुवाहाटी (IITG)
स्थापना वर्ष - १९९४

७) भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान रुडकी(IITR)
स्थापना वर्ष - १८४७
संस्थान का दर्जा - २००१

८) भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान रोपड(IITRPR)
स्थापना वर्ष - २००८

९) भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान भुवनेश्वर(IITBBS)
स्थापना वर्ष - २००८

१०) भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान गांधीनगर(IITGN)
स्थापना वर्ष - २००८

११) भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान हैद्राबाद (IITH)
स्थापना वर्ष - २००८

१२) भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान जोधपुर (IITJ)
स्थापना वर्ष - २००८

१३) भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान पटना (IITP)
स्थापना वर्ष - २००८

१४) भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान इंदौर (IITI)
स्थापना वर्ष - २००९

१५) भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान मंडी (IITMandi)
स्थापना वर्ष - २००९

१६) भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (काशी हिंदू विश्वविद्यालय) वाराणसी (IIT BHU)
स्थापना वर्ष - १९१९ 
संस्थान का दर्जा - २०१२

१७) भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान पलक्कड (IIT PKD)
स्थापना वर्ष - २०१५


१८) भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान तिरुपती (IITTP)
स्थापना वर्ष - २०१५

१९) भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान ( भारतीय खनी विद्यापिठ) धनबाद (IITISM)
स्थापना वर्ष - १९२६
संस्थान का दर्जा - २०१६

२०) भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान भिलाई (IITBh)
स्थापना वर्ष - २०१६

२१) भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान गोवा (IITGoa)
स्थापना वर्ष - २०१६

२२) भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान जम्मू (IITJM)
 स्थापना वर्ष - २०१६

२३) भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान धारवाड (IITDH)
 स्थापना वर्ष - २०१६
 भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान मे शिक्षित अभियंताओ तथा शोधकर्ताओ की पहचान पुरे विश्व मे होती है।
इन प्रसिद्धी के कारण भारत मे अमियांत्रिकी की पढ़ाई का इच्छुक हर विधार्थी इन संस्थानो मे प्रवेश पाने की महत्त्वकांक्षा रखता है। इन संस्थानो मे स्नातक की पढाई के लिए प्रवेश पाने के लिए एक संयुक्त प्रवेश परीक्षा होती है, जिसे JEE के नाम से जानते है।


IIT संयुक्त प्रवेश परिक्षा (IIT JEE)

  IIT JEE की परिक्षा भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थानो मे स्नातक स्तर पर प्रवेश के लिए ली जाती है। इसमे गणित, भौतिकी और रसायन विज्ञान विषयो के प्रश्न होते है। 
 अप्रैल २०१३ से ही आय आय टी प्रवेश परिक्षा दो हिस्सो मे ली जाती है। एक है मेन और दुसरा है एडवांस। आय आय टी मे आवेदन करने वाले विद्यार्थी पहले मेन परीक्षा देते है और इसमे सफल विद्यार्थी आगे एडवांस परीक्षा के लिए पात्र होते है।

कोरोना व्हायरस (COVID-19) क्या है ?




Telegram group-
Youtube Channel

Post a Comment

4 Comments

  1. What will the process for taking admission ?

    TechKnow Manish

    ReplyDelete
  2. Very nice information.
    Thanks.
    Look out for this website also- https://gyanboost.blogspot.com
    Here you can find various GK tricks, comprehensive articles and much more.

    ReplyDelete